301 and 302 redirect kya hai क्या है दोस्तों इसे हम नाम से ही पता कर सकते है की किसी search engine को या user को एक location से दुसरे location पर भेज रहे है उसे हम redirect कहा जा सकता है.

301 and 302 redirect kya hai

दोस्तों समजो की address १(www. example.com) के बारे में सबको पता है google crawler और user को भी पता है जब भी user अपने ब्राउज़र में www. example.com

url ऐड करेगा तो वो उस वेबसाइट के पेज पर चला जायगा.चलो फिर आप ने कभी www. example.com url को डाउन कर दिया रीज़न कोनसाभी हो सकता है लिमिटेड टाइम के लिए आप ने पेज को डाउन कर दिया डाउन आप content change,या technical reason के लिएभी आप डाउन कर सकते है.

तो इससे क्या होंगा दोस्तों user जब आप के वेबसाइट पर आयेगा तो उसे कुछ दिखेगा नहीं तो उसे दुसरे पेज पर आप को redirect करना होंगा .

1.Redirects के वैसे देखे तो बोहोत प्रकार है पर हमें दो प्रकार देखना है

1. 301 Redirect    2. 302 Redirect

1. 301 Redirect kya hai:  

चलो देखते है  301 Redirect kya hai

इसे आप Move Permantly भी बोलते है इसमें क्या होता है दोस्तों पूरा का पूरा url move करना पड़ता है किसी दुसरे url पर और हम आपको simple भाषा में समजाने का प्रयास करेगे आपने 301 Redirect से पुराना वाला url हटाके नया वाला url के पेज पर आप चले जायेगे.इसे ही 301 Redirect कहते है.

2. 302 Redirect kya hai

आपको कभी पुराना वाला url को नए वाले url पर temporarily redirect करना है तो आप 302 Redirect का  use कर सकते है.ये कब होता है जब कभी आप खुच अपडेट कर रहे होते है तब.

302 redirect में url की link value नए वाले url में पास नहीं होंगी इसका कारण है की 302 redirect ये एक temporarily process है.

302 redirect में नया वाला url इंडेक्स नहीं होंगा.

Redirect का मतलब ही ये ही है की जब कभी आप पुराने वाले url को नए वाले में permanat redirect या move करते है.

2.link Equity क्या है old url backlinks का क्या होता है?

बोहोत सारे लोगो के मन में doute रहा ता है जब भी हम 301 redirect करते है तो क्या हमारे वेबसाइट के authority bulid up करने के लिए backlinks बनाया थे क्या वो सब चले जाये गे उसका क्या होंगा.

जोभी backlinks आप ने पुराने वाले url में बनाये थे वो सभी 90 से 99% तक नए वाले url पर 301 में redirect ट्रान्सफर हो जाती है.आप की seo value कम नहीं होती है.

301 and 302 redirect kya hai इसे समजने के लिए ये आर्टिकल पूरा पढ़ते रहे

Moving a new Domain Permanently

पुराना domain name: http://www.example.com

नया  domain name: http://www.example2.com

तब आप को 301 Redirect का उपयोग करना है.

3.HTTPS Migration SSL Certificate

पुराना domain में ssl Certificate नहीं था नया वाला में ssl Certificate लगा सकते है.

पुराना domain name: http://www.example.com

नया  domain name: https://www.example.2com

आपने पुराने वाले domain में ssl certificate का उपयोग किया नहीं और आप नया जो domain है उसमें ssl certificate का use करना चाहते हो तो आप कर सकते है आप का कुछ backlinks या आप ने जो link juice बनया है उसकी seo authority में कोई फरक दिखे गा नहीं आप कर सकते है आप ने पुराने वाले domain में seo authority बिल्ड up की थी वो ट्रान्सफर हो जायेगी नए वाला ssl Certificate में.

4.404 error क्या है

बोहोत बार आप ने देखा होंगा की 404 error क्या है चलो देखते है दोस्तों मानलो की आप आपने url में slug में change करते हो उदहारण के लिए मानलो की आप की वेबसाइट कभी blogger में थी तब आप के वेबसाइट date year ये सब कुछ आता था आप के इस url के अन्दर आप ने उसे change करके कुछ नया url create किया  तब कोई भी user कभी उस url पर  जायेगा तो आप की साईट पर 404 error आएगा.

बोहोत बार ये भी देखा गया है की जब आप वेबसाइट का url change करते हो और कोई user आप के वेबसाइट का url पर क्लिक करता है तो वह पर 404 page not error आता है इसलिए ही हम 301 redirect का उपयोग करते है.

source:https://support.google.com/
5.Wordpress में Website ko Redirect kaise kare

दोस्तों उसके लिए आप को खुच स्टेप्स follow करने है जैसे की आप यहाँ देख सकते है redirection

step १:आपको WordPress dashbord>add new Plugin>Redirection( search करना है)

Redirection plugin ( 301 and 302 redirect kya hai)

step २: आप को tool में जाकर इंस्ट्रक्शन follow करना है.

301 and 302 redirect kya hai
301 and 302 redirect kya hai
6.What is difference between 301 and 302 redirect
301 Redirect 302 Redirect


१.301 redirect आप उस पेज को permently move करतेहै नए location पर.
२.301 redirect में domain authority और seo search ranking पर कोई फरक नहीं पड़ता है.

३.  301 में नए वाले url के पास सभी values रहती है
१. 302 redirect आप उस पेज को temporaly move करते है नए location पर.

२.302 redirect में आप url एक temporaly move करते है तो domain authority और seo search ranking ये सभी temporaly में काउंट होता है

३. 302 में नए वाले url के पास values रहती नहीं है
301 and 302 redirect kya hai

दोस्तों आशा करते है आप को 301 and 302 Redirect kya hai और उसे Redirect कैसे करे इसकी की सम्पूर्ण जानकारी अच्छी लगी होंगी आप के कुछ सवाल होंगे तो आप हमें कमेंट्स में पुछ सकते है.

दोस्तों आपको backlinks और Affiliate Marketing की अधिक माहिती के लिए निचे दिए गए link पर क्लिक कर सकते है.

  1. backlinks  2. Affiliate Marketing

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *